Digital India Newser

ONDC क्या है? ONDC का उपयोग कैसे करें | सबसे सस्ता शौपिंग करिए यहाँ

आज हम आपको बताने जा रहे है। ONDC क्या है इसका उद्देश्य क्या है। और इसका उपयोग कहाँ और कैसे करें।

दोस्तों अगर आप भी ऑनलाइन खाना या अन्य कोई भी जरूरत की चीजें ऑर्डर करते है या ऑनलाइन ऑर्डर किये खाना खाना पसंद करते है तो आपके लिए खुशखबरी है। दोस्तों आज हम बात करने का रहे है एक ऐसे प्लेटफॉर्म की जहां से अगर आप खाना या अन्य कोई भी जरूरत की चीजें ऑर्डर करते है ऑर्डर करते है तो आपको काफी बचत होगी। आपको Zomato या Swiggy से आपको आधे कीमत पर आपको फ़ूड ऑर्डर हो जायेगा।  यानी की आप से जीतना पैसा खाना ऑर्डर करने का Zomato या Swiggy लेता है आप उसे कम कीमत पर खाना माँगा सकते है। हम बात करने जा रहे है ONDC के बारे में अगर आपको ONDC की पूरी जानकारी चाहिए तो आप इस आर्टिकल्स को लास्ट तक पूरा पढ़ें। 

ondc

ONDC पर खाना सस्ता मिलेगा कैसे 

दोस्तों आज हम जिस Food Delivery प्लेटफॉर्म की बात करने जा रहे है उसका नाम ONDC है। यहाँ से भी आप खाना ऑर्डर आप कर सकते है। ONDC बहुत जल्दी से मार्केट में वायरल और पॉपुलर हो रहा है। लोग इस से खाना ऑर्डर करने का बाद अच्छा रिव्यु दे रहे है। कहा जा रहा की ये सबसे पॉपुलर फ़ूडऑडर Zomato और Swingy से सस्ता खाना देता है। आपको निचे स्क्रीन्शोर्ट  में दिख जायेगा की Swingy पर Burgers 300 रुपया में मिल रहा है वही  ONDC पर केवल 185 रुपया में मिल रहा है।

आपको ONDC से खाना ऑर्डर करने पर बहुत कम डिलीवरी चार्ज लिया जाता रहा है। जिस कारण से आपको ONDC से खाना ऑर्डर करने पर आपको बचत होगा। ONDC से एक दिन में 10 हजार से ज्यादा खाना डिलीवरी कर रहा है। 40% सस्ता सामान मिलेगा यहाँ आपको ऑर्डर करने पर।

 आज हम आपको बताने जा रहे है। ONDC क्या है इसका उद्देश्य क्या है। और इसका उपयोग कहाँ और कैसे करें।

food

ONDC क्या है 

सबसे पहले आपको बता दे की इसका पूरा नाम Open Network for Digital Commerce है इसको सितंबर 2022 में लांच किया गया थासितंबर 2022 सबसे पहले बैंगलोर में लॉन्च किया गया था। यह एक ओपन प्रोटोकॉल पर आधारित एक तकनीकी नेटवर्क है। यह केंद्र सरकार के वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के अंतर्गत उद्योग एवं आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग की एक पहल है। इसका उद्देश्य इलेक्ट्रॉनिक नेटवर्क के जरिए वस्तुओं एवं सेवाओं के लेन-देन एवं खरीद-बेच के सभी पहलुओं के लिए एक खुले मंच को प्रोत्साहित करना हैसभी क्रेता और विक्रेताओं को एक दूसरे से जोड़ने का कार्य करता है। 

ONDC काम कैसे करता है 

अब आप ये सोच रहे होंगे की ONDC से सामान कैसे ऑर्डर करें या फिर कैसे रजिस्टर करें। तो हम आपको बता दे की आप ONDC पर डायरेक्ट रजिस्टर नहीं कर सकते है या कोई ऑर्डर नहीं कर सकते है। आये हम आपको विस्तार से समझाते है।

ऐसे समझिये की जैसे भारत सरकार ने UPI लांच किया तो आप डिटेक्टर UPI में रजिस्टर नहीं कर सकते है और न ही अपना बैंक जोड़ सकते है। आपको UPI में अपना बैंक जोड़ने के लिए किसी न किनी प्लेटफॉर्म की तो जरुरत पड़ती ही है। जैसे आप Paytm, Google pay, और Phone Pay, जैसे प्लेटफॉर्म का उपयोग करते है। आप इन प्लेटफॉर्म की मदद से UPI को अपने बैंक से जोड़ते है और तब जाकर आप पैसा किसी को भेज सकते है या पैसा अपने बैंक खाते में माँगा सकते है। 

ऐसे ही ONDC काम करता है। कोई भी क्रेता और विक्रेताओं डायरेक्ट इस में नहीं जुड़ सकता है ये ओपन नेटवर्क है क्रेता और विक्रेताओं को कोई ऐसा प्लेटफॉर्म सर्च करना होगा जहाँ ONDC हो वहां आप रजिस्टर हो सकते है क्रेता है तो सम्मान ऑर्डर कर सकते है और आप विक्रेता है तो आप अपना स्टोर जोड़ कर अपने दूकान का सम्मानऑनलाइन बेच सकते है। 

आप ONDC पर अपना दूकान को जोड़ कर समान बेच सकते है जैसे UPI बैंक जोड़ कर पैसा भेजते है। ग्राहक ONDC के साथ जुड़ कर अपने हिसाब से अच्छा स्टोर का नाम देखा कर प्रोडक्ट देख कर ऑडर कर सकता है कैसे UPI के द्वारा किसी को पैसा भेजते है। आशा करता हूँ आप समझ चुके होंगे।             

ONDC का क्या उद्देश्य है

दोस्तों जैसे की मैंने आपको ऊपर बताया है केंद्र सरकार के वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के अंतर्गत उद्योग एवं आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग के अंतर्गत आता है। इसका कार्य है आज कल से ऑनलाइन E- commerce प्लेटफॉर्म के मनोबल को तोड़ना ताकि वो आम आदमी को अपनी बातों में के ला कर डिस्काउं दिखा कर अपना जेब ना भरें। कोई भी E- commerce कंपनी लोगों के साथ गलत न करें और ना ही उनको अपने प्लेटफॉर्म के नियमो और शर्तों में फसाये रखें। इसके लिए ONDC को निर्माण किया गया है। 

छोटे व्यापारी इस ओपन नेटवर्क ONDC पर आ कर अपना बिजनेस को शुरू कर सकता है और अपना सम्मान डायरेक्ट ग्राहकों तक पंहुचा सकता है। अब छोटे व्यापारी ONDC की मदद से आगे बढ़ सकते है। जब तक मार्केट में बड़े E- commerce कंपनी को टक्कर देने कोई  आएगा नहीं तब तक ये अपना मनमानी करते रहेंगे।

बड़े E- commerce कंपनी को खतरा 

बड़े E- commerce कंपनी को खतरा साफ़ देखा जा रहा है क्यों की बड़े E- commerce कंपनी की ऑनलाइन ऑडर में 80% मार्किट में पकड़ है। जिस कारण छोटे व्यापारीआगे नहीं बढ़ पा रहे है। बड़े E- commerce कंपनी अपने मनमानी हिसाब से डिलीवरी चार्ज लिया करता था। कंपनी अपने हिसाब से नियम और शर्तों को बनाता है और ग्राहकों को नियम और शर्तों  का पालन करने को बोलता है जिसे कंपनी को अधिक से अधिक फायदा हो सके। अब ड़े E- commerce कंपनी की मनमानी नहीं चलेगा। ग्राहक अब अपने हिसाब से किसी भी बिक्रेता के साथ जुड़ कर अपने जरूरतों की सामान को ऑनलाइन ऑडर कर के अपने घर तक माँगा सकता है। 

ONDC में लॉग इन कैसे करें 

इस में लॉग इन करने के लिए आपको किसी सेलर एप्प की मदद लेना होगा। वैसे हमारी जानकारी में आप Patym App में जा कर ONDC के साथ जुड़ सकते है। आपको Paytm में जा कर सर्च करना है और आपको मिल जायेगा। या फिर आप डायरेक्ट ondc.org ऑफिसियल वेबसाइट पर जा सकते है।

 ONDC कितने शहरों में लॉन्च हुआ है 

ये बहुत तेजी से सभी शहरों में लॉन्च हो तह है। अभी तक  देश के 240 शहरों में उपलब्ध है। बहुत ही जल्दी ही भारत के सभी शहरों में ये उपलब्ध हो जायेगा। ONDC से एक दिन में 10 हजार से ज्यादा खाना डिलीवरी कर रहा है।

ONDC का लाभ और विशेषता 

  • यह केंद्र सरकार द्वारा चलाया गया ओपन नेटवर्क है 
  • ONDC सभी क्रेता और विक्रेताओं को एक दूसरे से जोड़ने का कार्य करता है। 
  • ONDC किसी भी प्लेटफॉर्म से जोड़ा जा सकता है चाहे वो वेबसाइट हो या App 
  • बड़े E- commerce कंपनी की मनमानी नहीं चलेगा।
  • E- commerce कंपनी अपनी मनमानी नहीं करेगा और अपने ढंग से सामान नहीं बेच सकते है। 
  • छोटे व्यापारी भी अपना सामान ऑनलाइन चेच सकता है।
  • ग्राहकों को उचित डिलीवरी चार्ज ही अब देना होगा।
  • ONDC किसी की निजी संपत्ति नहीं है। आप इस में किसी अन्य प्लेत्फ्रोम की सहायता से जुड़ सकते है।

आशा करता हूँ की आपको ONDC क्या है ईट कैसे काम करता है उसकी पूरी जानकारी मिली होगी। फिर भी आपके मन में कोई सवाल है तो निसंकोचअपना सवाल कमेंट बॉक्स में पूछ सकतें है। आपके सवाल का जवाबदेने में हमे बेहद खुसी होगी।